Latest
current-affairs-news

Current Affairs: 17 feb 2021

भीमबेटका में मिला दुनिया के सबसे पुराने जानवर का जीवाश्म

भीमबेटका के ऑडिटोरियम गुफा की छत पर मिले जानवर का जीवाश्म लगभग 57 करोड़ साल पुराना है. इसका नाम डिकिनसोनिया है और देश में पहली बार इस जानवर का जीवाश्म मिला है. यह जीवाश्‍म भीमबेटका में शोधकर्ताओं को संयोग से मिला.

शोधकर्ताओं की खोज को गोंडवाना रिसर्च नामक अंतरराष्‍ट्रीय पत्रिका के फरवरी के अंक में प्रकाशित किया गया है. शोधकर्ताओं के मुताबिक डिकिनसोनिया के जीवाश्‍म चार फीट तक बढ़ सकते हैं. भीमबेटका में मिला जीवाश्‍म 17 इंच लंबा है.

किरण बेदी को पुडुचेरी के उपराज्यपाल पद से हटाया गया

किरण बेदी को पुडुचेरी के उपराज्यपाल पद से हटा दिया गया है. यह जानकारी राष्ट्रपति भवन से जारी एक बयान में दी गई है. ज्ञात हो कि प्रशासनिक अड़चनों को लेकर पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी और किरण बेदी के बीच काफी लंबे समय से विवाद चल रहा था.

किरण बेदी ने एक ट्वीट करके उनके साथ काम करने वाले और पुदुच्चेरी के लोगों का आभार जताया है. उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि उन सभी का शुक्रिया, जो पुदुच्चेरी के उप राज्यपाल के तौर पर मेरी यात्रा के हिस्सा थे.

Also read: (Current Affairs 16 feb 2021)

आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय ने पायलट पेयजल सर्वेक्षण’ शुरू किया

शहरी विकास मंत्रालय के सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने बताया कि इस सर्वेक्षण के तहत शहरों में पानी के समान वितरण, अपशिष्ट जल के पुन: उपयोग और जल निकायों की मात्रा और गुणवत्ता के संबंध में जानकारी एकत्रित की जाएगी. जल जीवन मिशन के अंतर्गत शहरी क्षेत्रों में भी हर घर नल से जल पहुंचाने की तैयारियों को अंतिम रूप दिया जाने लगा है.

सर्वेक्षण में शहरी निकायों के नागरिकों और निकाय के अफसरों से पेयजल, सीवेज जल प्रबंधन, गैर प्रबंधन, गैर राजस्व जल और जल निकायों की स्थिति पर डाटा एकत्र किए जाएंगे. जल जीवन मिशन की निगरानी टेक्नोलॉजी आधारित प्लेटफार्म पर की जाएगी. लाभार्थी की निगरानी भी इसी माध्यम से की जाएगी.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया ई-छावनी पोर्टल का शुभारंभ

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इस अवसर पर कहा कि छावनी क्षेत्रों के निवासी नागरिक समस्याओं के बारे में अपनी शिकायतें इस पोर्टल पर दर्ज कर सकते हैं. रक्षा मंत्री ने कहा कि ई-छावनी परियोजना का उद्देश्‍य 62 छावनी बोर्डों में 20 लाख से अधिक नागरिकों को ऑनलाइन नगरपालिका सेवाएं प्रदान करना है.

यह ई-छावनी पोर्टल पूरे देश में छावनी क्षेत्र के निवासियों को नागरिक केंद्रित सेवाएं प्रदान करने के लिए स्मार्ट गवर्नेंस की दिशा में एक और कदम साबित होगा. इस पोर्टल के माध्यम से, लोगों को नगरपालिका सेवाएं आसानी से प्रदान की जाएंगी. वे पोर्टल के माध्यम से अपने दस्तावेज जैसे सीवरेज कनेक्टिविटी एप्लिकेशन और ट्रेड लाइसेंस प्राप्त कर सकेंगे.

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *