Latest
current-affairs-news

Current Affairs 16 feb 2021

भारत इस साल अस्त्र मार्क-मिसाइल का परीक्षण करेगा

भारत अस्‍त्र मार्क-2 मिसाइल से अपने लड़ाकू विमानों की क्षमता को हवाई युद्ध (हवा से हवा) में अधिक घातक बनाएगा. इस मिसाइल से लैस भा‍रतीय विमान दुश्‍मन विमानों को 160 किलोमीटर दूर से ही हवा में मार गिराने में सक्षम होंगे. सरकारी अधिकारियों के अनुसार, अस्‍त्र मिसाइलों का परीक्षण इस साल की दूसरी छमाही में शुरू होगा.

अस्‍त्र मार्क-2 मिसाइल ध्वनि की गति से चार गुना तेजी से उड़ान भरती है. यह मिसाइल सभी मौसम, दिन और रात हर समय मार करने में समर्थ है. मौजूदा समय में इसकी रेंज लगभग 100 किलोमीटर की है. अस्त्र मिसाइल को रक्षा अनुसंधान व विकास संगठन (DRDO) ने तैयार किया है.

ओडिशा सरकार करेगी कोविड वारियर मेमोरियल’ का निर्माण

राज्य के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी एक विज्ञप्ति के अनुसार, सरकार ने ‘कोविड -19 वारियर मेमोरियल’ के निर्माण के लिए भुवनेश्वर में बीजू पटनायक पार्क का चयन किया है. ओडिशा राज्य सरकार ने 15 अगस्त 2021 को इस मेमोरियल का उद्घाटन करने की योजना बनाई है.

ओडिशा सरकार के बयान के अनुसार, उनका कार्य विभाग इस मेमोरियल के स्ट्रक्चर और डिज़ाइन को अंतिम रूप देने के लिए वास्तुकार/ आर्किटेक्ट को यह काम सौंपेगा और फिर सक्षम प्राधिकारी से अनुमोदन लेगा. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अनुसार इस कोविड वारियर मेमोरियल के निर्माण की लागत, निर्माण विभाग के बजटीय प्रावधानों से पूरी की जाएगी.

भू-स्थानिक आंकड़े को नियंत्रित करने वाली नीतियों के उदारीकरण की घोषणा

विज्ञान और प्रौद्योगिकी सचिव आशुतोष शर्मा ने कहा कि नए दिशानिर्देशों के तहत क्षेत्र को नियंत्रण मुक्त कर दिया जाएगा और मंजूरी हासिल करने जैसे पहलुओं को दूर किया गया है. उन्होंने कहा कि भारतीय संस्थाओं के लिए इसे पूरी तरह से नियंत्रण मुक्त किया जायेगा और भू-स्थानिक आंकड़े के अधिग्रहण और उत्पादन हेतु पहले से मंजूरी लेना, सुरक्षा मंजूरी, लाइसेंस की जरूरत नहीं होगी.

प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट कर कहा कि हमारी सरकार ने एक ऐसा निर्णय लिया है, जो डिजिटल इंडिया को बड़ी गति प्रदान करेगा. भू-स्थानिक डेटा के अधिग्रहण और उत्पादन को नियंत्रित करने वाली नीतियों को आसान बनाया जाएगा. इससे हमारे आत्मनिर्भर भारत के विचार को भी बढ़ावा मिलेगा.

प्रधानमंत्री मोदी ने किया महाराजा सुहेलदेव के स्मारक का शिलान्यास

प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कहा कि आज मुझे बहराइच में महाराजा सुहेलदेव जी के भव्य स्मारक के शिलान्यास का सौभाग्य मिला है. उन्होंने कहा कि ये आधुनिक और भव्य स्मारक, ऐतिहासिक चित्तौरा झील का विकास, बहराइच पर महाराजा सुहेलदेव के आशीर्वाद को बढ़ाएगा और आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित करेगा.

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने प्रधानमंत्री का सबसे पहले स्‍वागत किया. इस दौरान मुख्‍यमंत्री ने कहा कि बहराइच के लिए आज महत्वपूर्ण दिन है. आज से लगभग एक हजार वर्ष पूर्व विदेशी आक्रांत से इस धरती को पूरी तरह से सुरक्ष‍ित करने के लिए अपने शौर्य पराक्रम का प्रर्दशन इस धरती पर करने वाले धर्मरक्षक, राष्ट्र नारक महाराजा सुहेलदेव की जंयती का कार्यक्रम भी है.

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *