Latest
current-affairs-news

Current Affairs 15 feb 2021

सरकारी क्षेत्र की बीमा कंपनियों को मार्च तक 3000 करोड़ रुपये की पूंजी मिलेगी

मंत्रिमंडल ने नेशनल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड की अधिकृत पूंजी बढ़ाकर 7500 करोड़ रुपए करने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी थी. इसके साथ ही यूनाइटेड इंडिया इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड और ओरिएंटल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड दोनों की अधिकृत पूंजी भी बढ़ा कर 5000-5000 करोड़ रुपये करने का निर्णय किया गया था.

यह सत्र मध्य अवकाश के बाद 8 मार्च को शुरू होने वाला है. अतिरिक्त पूंजी मिलने से इन तीनों राष्ट्रीयकृत साधारण बीमा कंपनियों की वित्तीय हालत सुधरेगी. उनकी ऋण-शोधन क्षमता मजबूत होगी और वे अर्थव्यवस्था में बीमा की जरूरतों को अच्छे ढंग से पूरा कर सकेंगी.

मारियो द्रागी बने इटली के नए प्रधानमंत्री

यूरोपीय संघ के कोरोना वायरस रिकवरी फंडों को खर्च करने के मामले को लेकर देश की राजनीति में भूचाल आ गया. द्रागी के मंत्रिमंडल में सीनियर नेता लुइगी डि मियो विदेश मंत्री के रूप में रहेंगे. इसके अलावा जियानकार्लो जियोर्जेट्टी उद्योग मंत्री होंगे. सेंटर वाम डेमोक्रेटिक पार्टी से एंड्रिया ऑरलैंडो श्रम मंत्री होंगे.

बता दें कि पिछले प्रधानमंत्री जियूसेपे कोंटे ने जनवरी में इस्तीफा दे दिया था, क्योंकि उनकी पार्टी ने यूरोपीय संघ रिकवरी निधि की खर्च के लिए योजनाओं पर गठबंधन सरकार के लिए समर्थन खो दिया था.

प्रधानमंत्री मोदी ने आर्मी को सौंपा अर्जुन टैंक M-1A

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) की युद्धक वाहन अनुसंधान एवं विकास इकाई (CVRDE) ने अर्जुन टैंक मार्क 1A को बनाया है. सेना को अर्जुन टैंक सौंपने के साथ ही देश ने आत्मनिर्भर भारत की तरफ एक और कदम बढ़ा दिया है. यह टैंक भारत में ही डिजाइन हुए हैं और बनाए गए हैं.

यह टैंक पूरी तरह भारत में बनाया गया है. ये 118 टैंक सेना के पहले बैच में शामिल होंगे. अर्जुन टैंक के सेना में शामिल किए जाने के बाद एक और रेजिमेंट बनाया जाएगा. इससे पहले भी 124 टैंक सेना में शामिल किए जाने के बाद रेजिमेंट बनाई गई थी. अब रेजिमेंट गठित करने के लिए छह टैंकों की संख्या कम की गई है.

भारत का पहला CNG tractor केंद्रीय मंत्री गडकरी ने किया लॉन्च

सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने देश का पहला सीएनजी से चलने वाला ट्रैक्टर लॉन्च किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि डीजल के बजाए सीएनजी ट्रैक्टर के इस्तेमाल से किसान सालाना एक लाख रुपये बचा सकेंगे. सीएनजी ट्रैक्टर से 80 फीसदी वायु प्रदूषण कम होगा.

इस ट्रैक्टर का इधन भी न केवल आर्थिक रूप से बचत करेगा बल्कि पर्यावरण को बचाने में भी मदद करेगा. सरकार का कहना है कि फसलों के वेस्ट (अवशेष) को किसान जलाता था. अब उसे बेचकर वह अपनी आमदनी बढ़ा सकेगा. इस तरह सीएनजी ट्रैक्टर कृषि क्षेत्र में बड़ा बदलाव ला सकता है.

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *